ढोल-नगाड़े बजाकर दुल्हन को घर लाया गया 14वें दिन दुल्हन ने ऐसा कांड को अंजाम दिया जिससे परिवार में कोहराम मच गया.

शादी के 15 दिन बाद दुल्हन ने घरवालों के लिए बनाया डिनर, अंदर कुछ ऐसा रखा कि पूरा परिवार जल्दी सो जाए और फिर दुल्हन ने किया बड़ा बवाल

लुटेरे दुल्हनों की कई घटनाएं होती हैं, जिसमें शादी करने के इच्छुक युवक को मोटी रकम लेकर शादी का लालच दिया जाता है, जिसके बाद शादी के दिन या शादी के कुछ दिनों के भीतर ही लुटेरा भी नकदी और जेवरात लेकर फरार हो गया। फिर मामला है एक लुटेरे दुल्हन का जो शादी के 15 दिन के अंदर ही सब कुछ खत्म कर भाग गई.

घटना राजस्थान के झुंझुनू जिले के खेतड़ी गांव की है जहां लुटेरा दुल्हन के परिवार से सब कुछ छीन कर फरार हो गया. परिवार सो रहा था और दुल्हन शादी के 15 दिन बाद भाग गई। अब परिजनों ने पुलिस में मामला दर्ज कराया है, जिसके बाद दूल्हा-दुल्हन की तलाश भी जारी है.

(प्रतीकात्मक छवि)

इस संबंध में मिली जानकारी के अनुसार 26 वर्षीय हेमराज गुर्जर ने थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी है कि जुलाई में इलाखर के सतीश से उसकी मुलाकात हुई थी. उसने हेमराज से शादी करने की बात कही। लेकिन कहा गया कि शादी की कीमत चुकानी पड़ेगी। जिस पर हेमराज राजी हो गए। जिसके बाद 27 अगस्त को सतीश का फोन आया कि शादी के लिए एक लड़की मिल गई है, जब वह बुलाएगा तो मैं पांच-सात लोगों को लेकर ऐसे जज की शादी करवा दूंगा.

(प्रतीकात्मक छवि)

जिसके बाद 31 अगस्त को फोन आया कि नारनौल को 1 सितंबर को जज बनकर आना चाहिए. जिसके बाद हमराज अपने परिवार और परिचितों के साथ नारनौल पहुंचे। जहां सीमा नाम की एक महिला भी थी। तीनों पंजाब पहुंचे और एक होटल में ठहरे। जहां एक युवती दीप कौर के परिवार से मिलने आई और कोर्ट में 2 सितंबर को मंदिर में शादी करने का फैसला किया.

(प्रतीकात्मक छवि)

2 सितंबर को पंजाब के फरीदाकोट में एक मंदिर के दर्शन भी हुए थे, जिसके बाद कोर्ट में शादी का हलफनामा लिखा गया था. हेमराज अपनी पत्नी दीप कौर के साथ गांव आया और दुल्हन की तरह उसका स्वागत किया। लेकिन शादी के 15 दिन बाद 16-17 सितंबर को जब परिवार सो रहा था तब दीप कौर नकदी और जेवरात लेकर घर से फरार हो गई. रात को जब हेमराज उठा तो उसने पत्नी को देखे बिना गांव की तलाशी ली। इसके बाद दलाल ने सतीश को फोन किया। फिर उसे बताया गया कि उसका काम लूट करना है।

(प्रतीकात्मक छवि)

हेमराज ने प्राथमिकी में कहा कि दीप कौर ने उस रात खाना बनाया था। जिससे उस रात न सिर्फ घरवाले जल्दी सो गए बल्कि नींद इतनी आ गई कि किसी को पता ही नहीं चला कि वह भागकर पैकिंग कर रही है। यह हेमराज भी लूटपाट करने वाली दुल्हन का शिकार हो गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *